महिला जो बह्हो की हड्डियों और खून से सौन्दर्य प्रसाधन सामग्री बना कर बेचती थी (Enriqueta Marti The Vampire Of Barcelona)

अक्सर हम बच्चों की शैतानी या बुरे व्यवहार पर उनसे कह देते हैं, कि उन्हें राक्षस आकर ले जाएगा। ठीक उसी तरह स्पेन में बच्चों को एनरीक्यूटा मारटी (Enriqueta Martí) नामक एक महिला का खौफ दिखाया जाता है। जो बच्चों का अपहरण करती थी, और उनका नाजायज फायदा उठा कर उन्हें मार देती थी। और अंत में उनके शरीर की चर्बी और हड्डियों से सौंदर्य प्रसाधन सामग्री यानी कॉस्मेटिक्स बनाकर अपना व्यापार करती थी।


इस महिला की सच्चाई लोगों के सामने तब आई जब उसने बार्सिलोना (Barcelona) शहर में टेरिस्ता (Teresita) नामक एक बच्ची का अपहरण किया था। यह घटना 10 फरवरी सन 1912 की है। शाम का समय था और टेरिस्ता (Teresita) अकेली अपनी गुड़िया के साथ खेल रही थी। उसे अकेला देखकर एक बेघर औरत ने उसे ढेर सारी चॉकलेट देने का वादा किया। चॉकलेट के लालच में टेरिस्ता (Teresita) ने महिला का हाथ पकड़ा और उस महिला के साथ चलने लगी। थोड़े समय बाद उसे उसने महसूस किया कि वह महिला उसे घर से दूर ले जा रही है। टेरिस्ता (Teresita) ने उसे रोकने की कोशिश करी परन्तु तब तक महिला ने उसकी आंखों पर काला कपड़ा बांध दिया था।


महिला उसे अपने घर ले गई जहां पर टेरिस्ता (Teresita) ने एक और छोटी बच्ची को अपने साथ पाया उस बच्ची का नाम एंजलिटा (Angelita) था। जल्दी ही तेरे टेरिस्ता (Teresita) बाल काट दिए गए और उससे कहा गया कि वह अब अनाथ है, और आज से वह महिला ही उसकी सौतेली माँ है। मासूम बच्ची को उसका कहा मानना पड़ा दोनों बच्चों को घर के  खिड़की-दरवाजों के पास जाने से मना किया गया था। इसलिए वह पूरा दिन एक कमरे के अंदर ही रहते थे। कुछ हफ्तों बाद दोनों बच्चियों ने महिला की अनुपस्थिति में एक गुप्त कमरे में जाने की ठान ली, जिसमें जाना उन्हें सख्त मना था। कमरे के अंदर जाकर उन्होंने इधर-उधर बच्चों के कपड़ों से भरी बोरियां देखी जो खून से लतपत थी। बोरियों के ऊपर एक बड़ा खून से सना हुआ चाकू भी था। वह दृश्य देख दोनों बच्चे घबरा गए ।


अचानक एक दिन टेरिस्ता (Teresita) बिना कुछ सोचे समझे खिड़की के पास जाकर वहां से झांकने लगी। पड़ोस में बाहर खड़ी एक महिला ने उसे दूर से देख लिया, उस महिला का नाम क्लाउडिया एलिस (Claudia Elias) था। क्लाउडिया (Claudia) ने जब महिला से उस बच्ची के बारे में पूछा तो उसने उस बात को  अनसुना कर दिया।  करीब एक हफ्ते बाद एक दोपहर बच्चियां घर में अकेली थी, अचानक उन्होंने घर में उस महिला के साथ पुलिस को देखा। बच्चों से पूछताछ करने पर उन्हें पता चला कि बच्चों का अपहरण किया गया है। क्लाउडिया (Claudia) को टेरिस्ता (Teresita) को देखते ही संदेह हुआ था और उसने वक्त रहते पुलिस को सूचना दे दी।

Enriqueta Marti The Vampire Of Barcelona


आश्चर्य तो तब हुआ जब एंजलिटा (Angelita) ने अपना बयान देना शुरु किया। एंजलिटा (Angelita) ने महिला की पहचान बताते हुए कहा कि महिला का नाम एनरीक्यूटा मारटी (Enriqueta Martí) है, और किस तरह उसने वहां रहने पेपीटो (Pepito) नामक 5 वर्ष के लड़के की हत्या कर दी। दोनों बच्चों से पूछताछ होने पर पुलिस ने एनरीक्यूटा (Enriqueta) के बारे में जानकारी हासिल करी उस जानकारी के अनुसार कुछ वर्षों पूर्व वह स्पेन (Spain) में कुछ अमीर घरों में नौकरी करती थी। परन्तु वह उस कार्य से  खुश नहीं थी। और समय के साथ उसे महसूस हुआ कि वह अपनी सुंदरता से ज्यादा पैसे कमा सकती है। इसी के चलते उसने अवैद्य कार्य करना शुरु कर दिया। इन अवैध कार्यों में वह मासूम बच्चों का शिकार करती थी। सिर्फ इतना ही नहीं जब उन मासूमों का अवैध रूप से इस्तेमाल कर लिया जाता था, तब वह उन्हें मारकर उनके शरीर की हड्डियों के चूरे , बालों और खून से सौन्दर्य प्रसाधन सामग्री बनाकर अमीर वर्ग की महिलाओं को बेचती थी। दुखद बात तो यह थी कि उन महिलाओं को बनाने के लिए उपयोग की गई सामग्री के बारे में जानकारी थी और वह उसे उम्र घटाने हेतु उपयोग करती थी।


गिरफ्तार होने के 1 साल 3 महीने बाद उसके साथी कैदियों ने उस पर हमला कर दिया, और पीट-पीटकर उसे मार डाला। उसके द्वारा किए गए इन क्रूर गुनाहों की वजह से उसे वैंपायर ऑफ बार्सिलोना (The Vampire of Barcelona) के नाम से जाना जाता है।

Comments